ऋषिकेश में गंगा का जलस्तर घटने लगा, प्रशासन ने ली राहत की सांस

उत्तराखंड देहरादून

ऋषिकेश। ऋषिकेश में गंगा का जलस्तर गुरुवार की सुबह कम होने के कारण प्रशासन ने राहत की सांस ली है। बुधवार की रात जलस्तर चेतावनी रेखा से मात्र 35 सेंटीमीटर नीचे पहुंच गया था। जिसको देखते हुए देर रात त्रिवेणी घाट क्षेत्र में रह रहे असहाय व्यक्तियों को यहां से हटा दिया गया था। गुरुवार की सुबह ऋषिकेश में गंगा चेतावनी रेखा से 70 सेंटीमीटर नीचे बह रही है।

पर्वतीय क्षेत्र में बारिश के साथ चंद्रभागा नदी का जलस्तर बढ़ने से बुधवार को गंगा का जलस्तर भी बढ़ गया था। यहां गंगा में चेतावनी का निशान 339.50 मीटर है। बुधवार की रात आठ बजे तक गंगा का जलस्तर 339.15 मीटर तक पहुंच गया था। यानी गंगा चेतावनी रेखा से 35 सेंटीमीटर बह रही थी। केंद्रीय जल आयोग की ओर से प्रशासन को निरंतर अपडेट दिया जाता रहा। जिस कारण बुधवार मध्य रात्रि को पुलिस और प्रशासन की टीम ने विशेष रूप से त्रिवेणी घाट क्षेत्र में रह रहे निराश्रित व्यक्तियों को यहां से हटा दिया था। गुरुवार को सुबह से बारिश बंद है। केंद्रीय जल आयोग के मुताबिक सुबह नौ बजे ऋषिकेश में गंगा का जलस्तर चेतावनी रेखा से 70 सेंटीमीटर नीचे यानी 338.80 मीटर है।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *