Saturday, February 24, 2024

उत्तराखंड में महिलाओं की आत्मनिर्भर को उड़ान में मिला बैंकों का साथ, अब तक दे चुका है अरबों का कर्ज; देखें रिपोर्ट

उत्तराखंड

उत्तराखंड राज्य स्तरीय बैंकर्स समिति की ओर से हाल में जारी चालू वित्तीय वर्ष की त्रैमासिक रिपोर्ट में इसकी पुष्टि होती है। रिपोर्ट के अनुसार प्रदेश में 5.27 लाख महिलाओं को पिछले वित्तीय वर्ष तक बैंकों ने कर्ज दिया था। इसमें 127.40 अरब रुपये आसान किस्तों में चुकाने हैं। साथ ही इस वर्ष अप्रैल से जून तक 76.85 हजार महिलाओं को 14.70 अरब रुपये कर्ज दिया जा चुका है।

 हल्द्वानी। नारी शक्ति को आत्मनिर्भर बनने का प्रोत्साहन मिला तो वह लगातार सफलता की नई कहानियां लिख रही हैं। महिलाओं के सपनों को उड़ान देने में केंद्र और राज्य सरकार विभिन्न योजनाओं के माध्यम से मदद कर रही हैं। तो वहीं मातृ शक्ति को सशक्त बनाने में बैंकों की भूमिका को नकारा नहीं जा सकता है। लोन के माध्यम से आर्थिक मदद देकर बैंक महिलाओं के सपनों को पूरा करने में अपना योगदान दे रहे हैं।

उत्तराखंड राज्य स्तरीय बैंकर्स समिति की ओर से हाल में जारी चालू वित्तीय वर्ष की त्रैमासिक रिपोर्ट में इसकी पुष्टि होती है। रिपोर्ट के अनुसार प्रदेश में 5.27 लाख महिलाओं को पिछले वित्तीय वर्ष तक बैंकों ने कर्ज दिया था। इसमें 127.40 अरब रुपये आसान किस्तों में चुकाने हैं। साथ ही इस वर्ष अप्रैल से जून तक 76.85 हजार महिलाओं को 14.70 अरब रुपये कर्ज दिया जा चुका है।

बैंकों ने पिछले वर्ष तक 5.27 लाख महिलाओं को दिया कर्ज

सरकारी रिपोर्ट के अनुसार, उत्तराखंड में संचालित 33 छोटे-बड़े बैंकों ने पिछले वित्तीय वर्ष तक 5.27 लाख महिलाओं को कर्ज दिया है। साथ ही महिलाएं लगातार कर्ज की रकम का भुगतान भी कर रही हैं। वहीं अब महिला कर्जदारों पर करीब 127.40 अरब रुपये का लोन भुगतान बकाया है।

अप्रैल से जून तक 14.70 अरब का बैंक दे चुके कर्ज

महिलाओं की प्रगति में बैक लगातार मदद के लिए हाथ बढ़ा रहे हैं। इस वर्ष अप्रैल से जून तक बैंकों ने 76.85 हजार महिलाओं को कर्ज दिया है। इसमें 14.70 अरब रुपये कर्ज दिया गया है।

प्रदेश की महिलाओं पर पिछले वित्तीय वर्ष तक बैंकों का कर्ज

लीड – 111535

नान लीड – 48579

प्राइवेट – 218633

स्माल फाइनेंस – 91690

ग्रामीण – 17184

सहकारी – 39710

प्रदेश की महिलाओं पर बकाया कर्ज की स्थिति

लीड – 51.33 अरब

नान लीड – 22.99 अरब

प्राइवेट – 37.93 अरब

स्माल फाइनेंस – 3.04 अरब

ग्रामीण – 6.12 अरब

सहकारी – 5.97 अरब

चालू वित्तीय वर्ष में महिलाओं को दिए कर्ज की स्थिति

लीड – 8717

नान लीड – 11419

प्राइवेट – 33121

स्माल फाइनेंस – 13331

ग्रामीण – 4577

सहकारी – 30406

अप्रैल से जून तक महिलाओं को दिए गए कर्ज की रकम

लीड – 3.41 अरब

नान लीड – 3.08 अरब

प्राइवेट – 3.67 अरब

स्माल फाइनेंस – 67.60 करोड़

ग्रामीण – 1.08 अरब

सहकारी – 76.81 करोड़